गुरुवार, 1 जनवरी 2015

तलाश जारी हैं...


चलती हुई बस
चलाता हुआ बस चालक
यात्रियों के बीच बेठा हुआ
एक अच्छा आदमी
सहयात्री, सहपाठी
या अलग-थलग
लगता है या हैं.....
अचानक बस दुर्घटना
सभी लोग सही-सलामत
नहीं था तो एक
दुर्लभ प्रजाति का जीव
यानि अच्छा आदमी
सभी लोग तलाश रहें हैं
एक पुलिस वाले ने पुछा
क्या मिला...
दुसरे ने कहां तलाश जारी हैं...

     तरूण कुमार, सावन

4 टिप्‍पणियां:

  1. एक अंतहीन तलाश ...
    नए साल की शुभकामनाएं!~

    उत्तर देंहटाएं
  2. नव वर्ष की शुभकामनाएं देने, प्रभात अब आया है ।
    ..सुन्दर नववर्ष रचना ..
    मैं भगवान से प्रार्थना करता हूँ आपका आने वाला और अगले हर वर्ष खुशियाँ और सुख - आनंद से परिपूर्ण हो , सपरिवार सुखी - संपन्न रहें !

    उत्तर देंहटाएं